Feeds:
पोस्ट
टिप्पणियाँ

Archive for मार्च, 2019

साधारणतया मौन अच्छा है,

किन्तु मनन के लिए,

जब शोर हो चारों ओर सत्य के हनन के लिए,

तब तुम्हे अपनी बात ज्वलंत शब्दों में कहनी चाहिए ।

सिर कटाना पड़े या न पड़े,

तैयारी तो उसकी रहनी चाहिए।

भवानी प्रसाद मिश्र

इस कविता से 12 वर्ष पूर्व ब्लॉगिंग शुरू की थी। फेबु पर भक्तों के सफल हमले का प्रतिकार इस जगह से करूंगा।

Read Full Post »

%d bloggers like this: